HIGHLIGHTS


यूपी: सहारनपुर में शिवालिक के जंगल से मिला 50 लाख साल पुराना हाथी का जीवाश्म

Root News of India 2020-06-20 11:02:13    SPECIAL 9493
यूपी: सहारनपुर में शिवालिक के जंगल से मिला 50 लाख साल पुराना हाथी का जीवाश्म
सहारनपुर, 20 जून 2020, (आरएनआई)। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में वन विभाग को शिवालिक के जंगलों में 50 लाख से अधिक हाथी का जबड़ा मिला है. जिसके बाद से ये मामला इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ. वन विभाग को सर्वेक्षण के दौरान यह सफलता मिली है. वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हिमालयन जियोलॉजी देहरादून के वैज्ञानिकों का मानना यह फॉसिल्स (जीवाश्म) स्टेगोडॉन प्रजाति हाथी का जबड़ा है और ये 50 लाख साल से अधिक पुराना है.

सहारनपुर जनपद के अंतर्गत आने वाला शिवालिक वन प्रभाग सहारनपुर का वनक्षेत्र 33229 हेक्टेयर में फैला हुआ है. वन विभाग ने सहारनपुर के बादशाही बाग के डाठा सौत के किनारे ये हाथी का फॉसिल्स प्राप्त किया गया है. बता दें, जनपद सहारनपुर के अंतर्गत शिवालिक वन प्रभाग, सहारनपुर का एक वन क्षेत्र है जिसमें वन्य जीवों की गणना का कार्य पिछले 6 महीने से किया जा रहा है. इसी के चलते इस क्षेत्र में वन विभाग विशेष सर्वेक्षण का कार्य कर रहा है. पहली बार कैमरा ट्रैप में ही 50 से अधिक तेंदुओं की शिवालिक में मिलने की पुष्टि भी हुई है.

सहारनपुर के मुख्य वन संरक्षक वीरेंद्र कुमार जैन ने बताया कि हमें विशेष सर्वेक्षण के दौरान यह 50 लाख वर्ष पुराना हाथी का जबड़ा मिला है. जिसका सर्वे हमने वाडिया इंस्टीट्यूट से करवाया है. उन्होंने बताया कि यह जबड़ा हाथी के पूर्वजों का है जो लगभग 50 लाख वर्ष पुराना है. उस समय उनके दांत 12 से 18 फीट लंबे होते थे और उस समय हिप्पोपोटामस, घोड़ा समकालीन थे. जिसकी कोई कीमत नहीं है, ये अमूल्य है.

आगे उन्होंने बताया कि आज का हाथी भी उसी का एक रूप है जिसमें धीरे-धीरे बदलाव आए हैं. हालांकि, आज की तारिख में 'स्टेगोडॉन' खत्म हो चुके हैं लेकिन आज का हाथी उनके डीएनए के बदलाव के बाद अफ्रीकन व इंडियन प्रजाति में मौजूद हैं. उत्तर भारत में हाथी के पूर्वज का काफी पुराना जीवाश्म है. हमारा मानना है कि शायद ही इतना पुराना जीवाश्म कहीं मिला होगा. इस क्षेत्र में तो यह पहली बार रिपोर्ट है.

वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हिमालय जियोलॉजी देहरादून के वैज्ञानिकों ने इस फॉसिल्स का बारिकी से अध्ययन से किया. वैज्ञानिकों ने बताया कि यह फॉसिल्स हाथी के पूर्वज का है जिसको 'स्टेगोडॉन' कहते हैं जो कि वर्तमान में विलुप्त हो चुके हैं. यह फॉसिल्स लगभग 50 लाख वर्षों से अधिक पुराना है. यह शिवालिक रेंज की डॉकपठान फार्मेशन का है. 'स्टेगोडॉन' का दांत 12 से 18 फीट लंबा होता था.





Related News

Special

महाराष्ट्र: लोनार झील के पानी के गुलाबी होने के रहस्य से उठ गया पर्दा
Root News of India 2020-07-23 07:42:47
नई दिल्ली, 23 जुलाई 2020, (आरएनआई)। महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले में स्थित लोनार झील के पानी का रंग बदलने का रहस्य का खुलासा हो गया है। दरअसल, पानी में ‘हालोआर्चिया’ जीवाणुओं की बड़ी संख्या में मौजूदगी के कारण उसका रंग गुलाबी हुआ है। पुणे स्थित एक संस्थान ने यह निष्कर्ष निकाला है।
आपकी लिखावट में छिपा है आपकी कामयाबी का राज
Root News of India 2020-07-10 18:02:55
नई दिल्ली, 10 जुलाई 2020, (आरएनआई)। कई सरकारी नौकरियों से लेकर बहुराष्ट्रीय कंपनियों में नौकरी तक के लिए उम्मीदवार के व्यक्तित्व की भी परख की जाती है। वहीं, आपका व्यक्तित्व आपको सफल या असफल बनाने में भी बड़ी भूमिका निभाता है। यही कारण है कि व्यक्तित्व विकास के कोर्सेज की मांग तेजी से बढ़ी है। कई संस्थान तो इसके नाम पर छात्रों से मोटी रकम भी वसूलते हैं।
महाराष्ट्र की लोनार झील की हालत बेहद खराब और दयनीय
Root News of India 2020-07-08 08:44:01
नई दिल्ली, 8 जुलाई 2020, (आरएनआई)। बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर पीठ ने कहा है कि गुलाबी रंग में बदली लोनार झील की स्थिति बहुत खराब और दयनीय है। अदालत ने झील और उसके आसपास के क्षेत्र के संरक्षण एवं सुरक्षा के प्रति ‘संवेदनहीन और उदासीन रवैये’ को लेकर बुलढाणा के जिलाधिकारी और लोनार निगम परिषद की खिंचाई की। न्यायमूर्ति सुनील शुक्रे और न्यायमूर्ति अनिल किलोर की पीठ ने सोमवार को कीर्ति निपांकर की याचिका पर सुनवाई के दौरान झील का रंग बदलने पर चिंता प्रकट की है।
अखबार के ई-पेपर की पीडीएफ व्हाट्सएप ग्रुप में प्रसारित करना गैरकानूनी...
Root News of India 2020-07-03 10:19:04
नई दिल्ली, 3 जुलाई 2020, (आरएनआई)। समाचार पत्र के ई-पेपर की पीडीएफ कॉपी डाउनलोड कर उसे व्हाट्सएप ग्रुप और दूसरे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर प्रसारित करना किसी को भी भारी पड़ सकता है। ऐसा करना न सिर्फ गैरकानूनी है बल्कि कॉपीराइट कानून और आईटी एक्ट की विभिन्न धाराओं का उल्लंघन भी है। 
तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव बोले, पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव भारत रत्न के हकदार
Root News of India 2020-06-24 10:01:41
हैदराबाद, 24 जून 2020, (आरएनआई)। तेलंगाना के मुख्यमंत्री कल्बकुंतल चंद्रशेखर राव ने मंगलवार को कहा कि देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान पूर्व प्रधानमंत्री पामुलपर्ति व्यंकट नरसिंहा राव को दिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि पी.वी. नरसिंहा राव ने देश की तकदीर बदलने के लिए काम किया, वह भारतरत्न के हकदार हैं. राज्य के कैबिनेट और विधानसभा में इससे संबंधित पारित किया जाएगा.
यूपी: सहारनपुर में शिवालिक के जंगल से मिला 50 लाख साल पुराना हाथी का जीवाश्म
Root News of India 2020-06-20 11:02:13
सहारनपुर, 20 जून 2020, (आरएनआई)। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में वन विभाग को शिवालिक के जंगलों में 50 लाख से अधिक हाथी का जबड़ा मिला है. जिसके बाद से ये मामला इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ. वन विभाग को सर्वेक्षण के दौरान यह सफलता मिली है. वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हिमालयन जियोलॉजी देहरादून के वैज्ञानिकों का मानना यह फॉसिल्स (जीवाश्म) स्टेगोडॉन प्रजाति हाथी का जबड़ा है और ये 50 लाख साल से अधिक पुराना है.
महाराष्ट्र की लोनार झील का पानी हुआ गुलाबी
Root News of India 2020-06-11 13:19:16
नई दिल्ली, 11 जून 2020, (आरएनआई)। महाराष्ट्र की लोनार झील के पानी का रंग रातोंरात बदलकर गुलाबी हो गया है। विशेषज्ञ इसकी वजह लवणता तथा जलाशय में शैवाल की मौजूदगी को मान रहे हैं।
दोस्त को मगरमच्छ के हमले से जान पर खेलकर बचाया
Root News of India 2020-06-10 07:09:19
भोपाल, 10 जून 2020, (आरएनआई)। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के पास एक डैम में मगरमच्छ के हमले का वाकया देखने को मिला, जिसका वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल है। दरअसल भोपाल के दो दोस्त कलियासोत डैम में नहाने पहुंचे थे। अमित और गजेंद्र नाम के दोनों दोस्त पानी में उतरे और नहाने का मजा लेते रहे। तभी एक मगरमच्छ ने अमित की टांग पकड़ ली और उसे गहरे पानी में खींचने लगा। ऐसी हालत में आम इंसान अपने होशो हवास खो बैठेगा। जबकि अमित ने चिल्लाकर तत्काल अपने दोस्त गजेंद्र को अलर्ट किया। मुस्तैद गजेंद्र भी बिना समय गंवाये एक्शन मोड में आ गए।
इंसानों की तरह मशीनों को भी पड़ती है आराम के लिए नींद की जरूरत
Root News of India 2020-06-09 08:01:29
वाशिंगटन, 9 जून 2020, (आरएनआई)। आराम हर किसी को चाहिए भले वह तकनीक हो या कोई जीव। अगर अच्छा काम करना है तो पर्याप्त नींद और आराम की जरूरत होती है। इसी तरह कृत्रिम मस्तिष्क को भी आराम के लिए नींद की जरूरत होती है। लोस अलामोस नेशनल यूनिवर्सिटी के अध्ययन में ये खुलासा हुआ है। शोधकर्ता वैज्ञानिक डॉ. इजिंग वॉटकिन्स बताते हैं कि कृत्रिम मस्तिष्क में भी न्यूरल नेटवर्क होते हैं जो मस्तिष्क के बराबर काम करता है और चीजों को याद रखता है। 
वैज्ञानिकों ने धरती के सबसे नजदीक मौजूद ब्लैक होल को खोजा
Root News of India 2020-05-19 09:34:29
नई दिल्ली, 19 मई 2020, (आरएनआई)। हाल ही में अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने धरती के सबसे नजदीक मौजूद ब्लैक होल को ढूंढ निकाला है। ये धरती से करीब एक हजार प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है। अंतरिक्ष में ब्लैक होल एक शक्तिशाली गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र वाली जगह है जहां पर भौतिक विज्ञान का कोई भी नियम काम नहीं करता है।
ट्विटर पर आरबीआई सबसे लोकप्रिय केंद्रीय बैंक
Root News of India 2020-05-01 07:12:59
नई दिल्ली, 1 मई 2020, (आरएनआई)। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) मौद्रिक ‘ताकत’ में बेशक अमेरिका और यूरोप के केंद्रीय बैंकों से पीछे है, लेकिन यह लोकप्रियता में सबसे आगे है। ट्विटर पर यह दुनिया का सबसे लोकप्रिय केंद्रीय बैंक है।
देश में पिछले 4 सालों में रेल पटरियों पर 56,271 लोगों की मौत, 5,938 जख्मी: आरटीआई
Root News of India 2020-04-28 15:46:01
नई दिल्ली, 28 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। देश में रेल की पटरियों पर वर्ष 2016 से 2019 के बीच कुल 56,271 लोगों की मौत हुई, जबकि चार साल की इस अवधि में 5,938 लोग पटरियों पर घायल हुए। सूचना के अधिकार (आरटीआई) के तहत यह जानकारी हासिल हुई है।
यूपी के कुशीनगर में मिला दुर्लभ गिद्ध, देखने को उमड़ी भीड़
Root News of India 2020-04-24 13:41:05
कुशीनगर, 24 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। यूपी के कुशीनगर जिले में शुक्रवार को बरवापट्टी थाना क्षेत्र के बकुलहवा गांव में गन्ने के खेत में एक विलुप्त प्राय गिद्ध घायलावस्था में पाया गया। उसके दोनों पंखों में C3 टैग और जीपीएस चिप लगा था। गिद्ध मिलने की सूचना मिलते ही मौके पर ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी और तरह-तरह की अफवाह उड़ने लगी। सूचना पर वन विभाग और पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और गिद्ध को अपने कब्जे में ले लिया। वन विभाग के मुताबिक, गिद्ध को चोट लगी है या फिर वह बीमार है। उसकी जांच की जा रही है।
अंतरिक्ष के अनसुलझे रहस्य, वैज्ञानिक भी हैं हैरान
Root News of India 2020-03-29 07:27:12
नई दिल्ली, 29 मार्च 2020, (आरएनआई )। वर्ष 1930 में स्विटजरलैंड के खगोलशास्त्री फ्रिट्ज जविकी ने एक बात गौर की। वह यह कि दूर ब्रह्मांड में आकाशगंगाओं का एक झुंड एक दूसरे की परिक्रमा कर रहा है। परिक्रमा में असाधारण बात यह थी कि उनका जितना वजन दिख रहा था, उसके मुकाबले कई गुना ज्यादा उनकी परिक्रमा की रफ्तार थी। इस गुत्थी को सुलझाने के लिए उन्होंने विचार व्यक्त किया कि कोई चीज है जो इन आकाशगंगाओं की ओर गुरुत्वाकर्षण बल की मदद से खिंच रही है। उन चीजों को उन्होंने डार्क मैटर कहा। फिर शोधकर्ताओं ने इस बात की पुष्टि की कि पूरे ब्रह्मांड में इस तरह की रहस्यमय चीजें हैं। उन्होंने बताया कि तारे और इंसान जिन साधारण चीजों से मिलकर बने हैं, उनकी तुलना में ये डार्क मैटर हमारे ब्रह्मांड में छह गुना ज्यादा है। पूरे ब्रह्मांड में डार्क मैटर की उपस्थिति का दावा करने के बाद भी वैज्ञानिक इससे जुड़े कुछ रहस्यों को लेकर हैरान हैं।
जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एसबीआई को बेरहम और अक्षम करार दे डाला
Root News of India 2020-03-16 08:09:15
नई दिल्ली, 16 मार्च 2020, (आरएनआई )। हाल ही में सरकारी स्वामित्व वाले देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कड़ी फटकार लगाई है। एसबीआई के रवैये से बेहद खफा वित्त मंत्री ने उसे बेरहम और अक्षम तक करार दे डाला। बीते दिनों असम में हुए एक कार्यक्रम में एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार और विभिन्न बैंकों के प्रमुख भी पहुंचे थे। उसी समय की यह कथित ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हुई है।
सुप्रीम कोर्ट में एक अप्रैल से केवल ए4 साइज कागज में ही दाखिल होगी अर्जी
Root News of India 2020-03-13 08:07:17
नई दिल्ली, 13 मार्च 2020, (आरएनआई )। सुप्रीम कोर्ट एक अप्रैल से रोजमर्रा के काम काज के लिए याचिकाएं और शपथपत्रों को ए4 आकार के कागजों में ही स्वीकार करेगा। यह कदम कामकाज में एकरूपता और पर्यावरण को नुकसान से बचाने के लिए उठाया गया है।
राष्ट्रीय दलों को पिछले 14 साल में 11,234 करोड़ रुपये का चंदा अज्ञात स्रोतों से मिला, ADR का खुलासा
Root News of India 2020-03-10 08:21:35
नई दिल्ली, 10 मार्च 2020, (आरएनआई )। देश के राष्ट्रीय राजनीतिक दलों को वित्तवर्ष 2004-05 से 2018-19 के बीच 11,234 करोड़ रुपये का चंदा अज्ञात स्रोतों से प्राप्त किया। गैर सरकारी संगठन एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर)ने यह दावा किया है। एडीआर ने बताया कि इस विश्लेषण के लिए उसने सात राष्ट्रीय पार्टियों भाजपा, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा)और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा)द्वारा चुनाव आयोग को दी गई जानकारी का इस्तेमाल किया है।
झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन कैंसर से लड़ रही अर्शी नाज को बचाने आगे आए
Root News of India 2020-03-09 11:33:08
रांची, 9 मार्च 2020, (आरएनआई )। सोशल मीडिया पर सक्रीय रहने वाले झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने एक बार फिर से दरियादिली दिखाते हुए कैंसर से जूझ रही बच्ची की मदद के लिए तुरंत हाथ बढ़ाया।
यूजर ने मांगा पीएम मोदी के ट्विटर अकाउंट का पासवर्ड...
Root News of India 2020-03-08 12:06:09
नई दिल्ली, 8 मार्च 2020, (आरएनआई )। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्विटर अकाउंट आज सात महिलाएं चला रही हैं। इस दौरान पीएम मोदी ने कई लोगों के मजेदार सवालों के जवाब भी दिए।
वैश्विक स्तर पर चर्चा में है भारत का UPI
Root News of India 2020-03-07 16:46:59
नई दिल्‍ली, 7 मार्च 2020, (आरएनआई )। भारत में लोग डिजिटल लेनदेन के लिए यूपीआई (UPI) यानी यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस का काफी इस्तेमाल करते हैं। यूपीआई के जरिए हर महीने करोड़ों का लेनदेन होता है।

Top Stories

Home | Privacy Policy | Terms & Condition | Why RNI?